छत्तीसगढ़ में शक्कर, चांवल, जुट उद्योग एवं कपड़ा उद्योग

छत्तीसगढ़ में शक्कर, चांवल, जुट उद्योग एवं कपड़ा उद्योग – इसके पहले भाग में हमने BALCO and Cement Udhyog in Chhattisgarh के विषय में पढ़ा । आज हम छत्तीसगढ़ के कृषि आधारित उद्योगों जैसे  कपड़ा (Cloth) उद्योग , जुट उद्योग, चांवल उद्योग एवं शक्कर कारखाने  के विषय में पढेंगे ।

सूती वस्त्र उद्योग – Cotton Textile Industry

BNC Mill – बंगाल नागपुर कॉटन मील
स्थापना – 1892
स्थान – राजनांदगांव
पूर्व नाम – C.P. Mill
निर्माणकर्ता – जे.के. मैकवेथ कम्पनी मुंबई ।
सहयोगी – राजनांदगांव रियासत के राजा बहादुर बलराम दास ।

जूट उद्योग – Jute Industry

मोहन जूट उद्योग – Mohan Jute Mill
स्थापना – 1935
स्थान – रायगढ़
विशेष – छत्तीसगढ़ का एकमात्र जूट मील

छत्तीसगढ़ के कृषि आधारित उद्योग

शक्कर कारखाना  – Sugar Factory

1. भोरमदेव सहकारी शक्कर कारखाना – Bhoramdev Cooperative Sugar Factory
स्थापना – 2002-03
स्थान – ग्राम  राम्हेपुर जिला कवर्धा
विशेष – छत्तीसगढ़ का यह पहला शक्कर कारखाना है, शक्कर के सहउत्पाद से 6 मेगावाट बिजली का उत्पादन किया जाता है
2. माँ महामाया सहकारी शक्कर कारखाना – Maa Mahamaya Cooperative Sugar Factory
स्थापना –
स्थान – ग्राम  केरता – जिला सूरजपुर
3. माँ दंतेश्वरी सहकारी शक्कर कारखाना – Maa Danteshwari Cooperative Sugar Factory
स्थापना – 2009
स्थान – ग्राम करका भाठ जिला बालोद
4. सरदार वल्लभभाई पटेल  सहकारी शक्कर कारखाना – Sardar Vallabhbhai Patel Cooperative Sugar Factory
स्थापना – 2017
स्थान – ग्राम बिसेसर पंडरिया जिला कवर्धा
विशेष – शक्कर के खोई से 14 मेगावाट बिजली का उत्पादन किया जाता है
प्रस्तावित शक्कर कारखाने
1. अभनपुररायपुर
2. बरमकेला – रायगढ़

चावंल उद्योग   – Rice Industries (Mill)

छत्तीसगढ़ में चावंल मील की संख्यां लगभग 1500 है, सर्वाधिक चांवल मील वाला जिला रायपुर है और सर्वाधिक चांवल मीलों का संकेन्द्रण जिला धमतरी है

View Comments (0)