छत्तीसगढ़ में शक्कर, चांवल, जुट उद्योग एवं कपड़ा उद्योग

छत्तीसगढ़ में शक्कर, चांवल, जुट उद्योग एवं कपड़ा उद्योग  – इसके पहले भाग में हमने BALCO and Cement Udhyog in Chhattisgarh के विषय में पढ़ा । आज हम छत्तीसगढ़ के कृषि आधारित उद्योगों जैसे  कपड़ा (Cloth) उद्योग , जुट उद्योग, चांवल उद्योग एवं शक्कर कारखाने  के विषय में पढेंगे ।

सूती वस्त्र उद्योग – Cotton Textile Industry

BNC Mill – बंगाल नागपुर कॉटन मील
स्थापना – 1892
स्थान – राजनांदगांव
पूर्व नाम – C.P. Mill
निर्माणकर्ता – जे.के. मैकवेथ कम्पनी मुंबई ।
सहयोगी – राजनांदगांव रियासत के राजा बहादुर बलराम दास ।

जूट उद्योग – Jute Industry

मोहन जूट उद्योग – Mohan Jute Mill
स्थापना – 1935
स्थान – रायगढ़
विशेष – छत्तीसगढ़ का एकमात्र जूट मील

छत्तीसगढ़ के कृषि आधारित उद्योग

शक्कर कारखाना  – Sugar Factory

1. भोरमदेव सहकारी शक्कर कारखाना – Bhoramdev Cooperative Sugar Factory
स्थापना – 2002-03
स्थान – ग्राम  राम्हेपुर जिला कवर्धा
विशेष – छत्तीसगढ़ का यह पहला शक्कर कारखाना है, शक्कर के सहउत्पाद से 6 मेगावाट बिजली का उत्पादन किया जाता है 
 
2. माँ महामाया सहकारी शक्कर कारखाना – Maa Mahamaya Cooperative Sugar Factory
स्थापना –
स्थान – ग्राम  केरता – जिला सूरजपुर
3. माँ दंतेश्वरी सहकारी शक्कर कारखाना – Maa Danteshwari Cooperative Sugar Factory
स्थापना – 2009
स्थान – ग्राम करका भाठ जिला बालोद
4. सरदार वल्लभभाई पटेल  सहकारी शक्कर कारखाना – Sardar Vallabhbhai Patel Cooperative Sugar Factory
स्थापना – 2017
स्थान – ग्राम बिसेसर पंडरिया जिला कवर्धा
विशेष – शक्कर के खोई से 14 मेगावाट बिजली का उत्पादन किया जाता है 
 
प्रस्तावित शक्कर कारखाने 
 
1. अभनपुर – रायपुर
2. बरमकेला – रायगढ़
 

चावंल उद्योग   – Rice Industries (Mill)

छत्तीसगढ़ में चावंल मील की संख्यां लगभग 1500 है, सर्वाधिक चांवल मील वाला जिला रायपुर है और सर्वाधिक चांवल मीलों का संकेन्द्रण जिला धमतरी है 

1 thought on “छत्तीसगढ़ में शक्कर, चांवल, जुट उद्योग एवं कपड़ा उद्योग”

Leave a Comment