Ghatarani जतमई घटारानी मन्दिर गरियाबंद

जतमई मंदिर और घाटरानी झरना गरियाबंद छत्तीसगढ़ के प्रमुख मंदिरों और पर्यटन स्थलों में से एक है। वन देवी के रूप में पूजा जाता है।
यह स्थान छत्तीसगढ़ राज्य के गरियाबंद जिले के पांडुका क्षेत्र में स्थित है, रायपुर से लगभग 90 की.मी. की दुरी पर स्थित यह पर्यटन स्थल एवं प्राचीन माता का मन्दिर छत्तीसगढ़ का एक प्रमुख स्थान है।
जतमई मन्दिर से लगभग 20 की.मी. के दुरी में स्थित माँ घटारानी मन्दिर एवं झरना प्राक्रतिक सौन्दर्य से परिपूर्ण है।

Ghatarani पहुँच मार्ग

इस पहाड़ी से बहता झरना मन्दिर से लगा हुआ ही है ,भक्तगण यहाँ नहाकर माता के दर्शन कर सकते है। यह मार्ग थोडा कठिन सा है परन्तु जाया जा सकता है. यहाँ निचला और उपरी स्थान दोनों तरफ से आया जा सकता है, किन्तु उपरी ओर से आने में थोडा खतरा है। Jatmai Temple and Ghatarani Waterfall Gariyaband – जतमई घटारानी मन्दिर गरियाबंद।
छतीसगढ़ का सबसे प्राचीन मंदिर — देवरानी जेठानी मन्दिर ताला गाँव

जतमई घटारानी मन्दिर गरियाबंद

उपरी भाग से जतमई माता का मन्दिर और भी समीप है किन्तु अगर हम निचे उतरकर जाते है तो 4-5 की. मी. का अंतर होता है।  माता का मन्दिर एक गुफा नुमा है जहाँ से झरना बहुत ही समीप दिखी देता है।

झरने को बहते देखने हेतु बरसात का समय उचित रहता है अन्यथा पानी की कमी की वजह से यह झरने का आनद नहीं लिया जा सकता है। यह स्थान प्रकृति से भरपूर है, विशाल काय चट्टानों की पहाड़ी एवं हरे भरे जंगल मन को मोह लेते है। Jatmai Temple and Ghatarani Waterfall Gariyaband – जतमई घटारानी मन्दिर गरियाबंद।
इन्हें भी जरुर देखे :
युगल जोड़े की पसंदीदा जगह —मनगट्टा वन्य जिव पार्क – राजनांदगांव