छत्तीसगढ़ सतनामी आश्रम एवं अछुतोंद्वार कार्यक्रम

छत्तीसगढ़ सतनामी आश्रम एवं अछुतोंद्वार कार्यक्रम

सतनामी आश्रम की स्थापना 1924 छत्तीसगढ़ में पं. सुन्दरलाल शर्मा द्वारा समाज में सतनाम पंथियों को उच्च दर्जा दिलाने के उद्देश्य से रायपुर में सतनाम समाज आश्रम

काकीनाड़ा अधिवेशन एवं झंडा सत्याग्रह छत्तीसगढ़

काकीनाड़ा अधिवेशन एवं झंडा सत्याग्रह छत्तीसगढ़

काकीनाड़ा अधिवेशन 1923

दिसम्बर 1923 में काकीनाड़ा अधिवेशन बंगाल प्रान्त ( वर्तमान में आन्ध्र प्रदेश ) में हुआ था ।  इस अधिवेशन में राष्ट्रीय स्तर के नेता मोहम्मद अली तथा मौलाना शौकत अली ने शामिल होने के लिए पैदल रैली निकाली ।

इसमें छत्तीसगढ़ के धमतरी क्षेत्र से तथा बस्तर के आस पास के स्थानीय जन जातियों में राष्ट्रीयता की भावना जागृत करने हेतु नारायण राव मेघावाले ने बस्तर अंचल से काकीनाड़ा तक 25 कांग्रेसी कार्य कर्ताओं के साथ पैदल रैली प्रारम्भ किया।

Read more

छत्तीसगढ़ के प्रमुख आदिवासी विद्रोह

छत्तीसगढ़ के प्रमुख आदिवासी विद्रोह
छत्तीसगढ़ के प्रमुख आदिवासी विद्रोह – काकतीय वंश के शासन काल में छत्तीसगढ़ दण्डकारण्य क्षेत्र में कई जन जातीय विद्रोह आरम्भ हुए । यह विद्रोह जनजातीय शोषण एवं सांस्कृतिक अस्मिता पर हस्तक्षेप के कारण प्रारंभ हुआ ।

छ.ग. में कवर्धा को किसलिए जाना जाता है   – फणी नागवंशी 

हल्बा विद्रोह – 1774-177

  • शासक – अजमेर सिंह
  • नेतृत्त्वकर्ता – अजमेर सिंह
  • विद्रोह क्षेत्र – बड़े डोंगर परगना का क्षेत्र ।
  • कारण – दरिया देव के विरुद्ध अजमेर और दरियादेव के मध्य उत्तराधिकारी हेतु ।
  • परिणाम – अजमेर सिंह की मृत्यु एवं सम्पूर्ण हल्बा विद्रोहियों को समाप्त कर दिया गया ।

Read more